Friday, 30 December 2016

, ,

साहसिक खेलों के बीच नया साल

Manali-himacha
Manali

अगर आप नए साल में एडवेंचर ट्रिप प्लान कर रहे हैं, तो बैग पैक कीजिए और निकल पड़िए इन शहरों की ओर...
मनाली: मौसम में हल्की ठंड होते ही मैदानी इलाकों से काफी संख्या में टूरिस्ट हिमाचल की वादियों का लुत्फ़ उठाने पहुंचने लगते हैं। यह खूबसूरत पर्यटक स्थल है, जहां आप बर्फ से ढके पहाड़ और स्कीइंग जैसे स्पोर्ट्स का फैमिली के साथ भरपूर मजा ले सकते हैं। मनाली में सैलानियों के घूमने की कई दूसरी जगहें भी है, जैसे-सोलंग नाला विश्व प्रसिद्ध है। यहां स्कीइंग की कई प्रतियोगिताएं आयोजित होती रहती हैं। इसके अलावा, आप स्नोबोर्डिंग, पैराशूटिंग, पैराग्लाइडिंग, स्केटिंग और जॉर्बिंग जैसे एडवेंचर स्पोर्ट्स में शामिल हो सकते हैं

धर्मशाला:
Dharamshala-Himachal
Dharamshala
हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में ट्रैकिंग की शुरआत कांगड़ा घाटी में समुद्र से करीब 4600 मीटर की ऊंचाई से होती है। यहां ट्रैकिंग के कई रस्ते हैं, जो देवदार, चीड़ और ओक के जंगलों, साफ़ पानी की धाराओं, झीलों  और ग्लेशियरों से होकर इंद्रहार दरें पर चंबा घाटी की ओर जाता है। ट्रैकिंग का यह रास्ता पीर पंजाल क्षेणी की बर्फीली चोटियों ओर हिमालय की पर्वत क्षेणियों का मनोरम द्र्श्य पेश करता है।

ज्योलिकोट: 
Nainital
Nainital

नैनीताल जिले में समुद्र से 1219 मीटर की ऊंचाई पर बसा ज्योलिकोट एक मनमोहक पर्यटक स्थल है। एनएच87 पर स्थित कुमाउँनी पहाड़ियों का यह शहर नैनी झील का प्रवेशद्वार भी है। यहां कई कम ऊंचाई वाले ट्रैक्स के अलावा, कई दुर्गम स्थान भी है, जहां घूमा जा सकता है। इस क्षेत्र में कई सामान्य से लेकर मुश्किल ट्रैकिंग रूट्स भी है। यहां कई ऐसे दुर्गम स्थान हैं, जो घने जंगलों से घिरे हुए हैं, जहां जाना वास्तव में रोमांच से भर देता है।

ऋषिकेश: 
Rishikesh
river-rafting-in-rishikesh

यह शहर योग के साथ-साथ एडवेंचर एक्टिविटीज को लेकर भी काफी लोकप्रिय है। गंगा नदी में रिवर रॉफ्टिंग का लुत्फ़ उठाया जा सकता है। गंगा की उठती-गिरती लहरों से एक छोटी से नाव में जूझना भी अलग तरह का अनुभव होगा।
 
Share:

0 comments:

Post a Comment