Tuesday, 8 August 2017

, ,

"Nagaland" A full Feel State of Culture and Adventure

hornbill
पूर्वोत्तर का राज्य नागालैंड सिर्फ आदिवासियों की सांस्कृतिक विरासत का खजाना ही नहीं है। यह जगह एडवेंचर प्रेमियों को भी अपनी ओर खूब आकर्षित करता है। यहां ट्रैकिंग का अनुभव कभी भुला नहीं पाएंगे...
उत्तर-पूर्व के राज्यों की तरह ही नागालैंड में भी पर्यटकों के घूमने के लिए बहुत कुछ है। यह ऐसी जगह है, जहां लोग बार-बार आना पसंद करते हैं। दरअसल, यह राज्य समृद्ध सांस्कृतिक विरासत से भरापूरा तो है ही, इसके अलावा, यहां पर्यटकों के रहने ओर ठहरने की व्यवस्था भी बहुत उम्दा है, वह भी पुरे देसी अंदाज में। स्थानीय लोग खुद भी ऐसी सुविधाएं उपलब्ध कराते हैं। इस तरह से यहां की बहुसंख्य आबादी ने अपने जनजातीय रीति-रिवाजों को भी बहुत खूबसूरती से संजो कर रखा है। जब भी आप नागालैंड की ट्रिप पर आएं, तो नीचे के कुछ डेस्टिनेशन को घूमना न भूलें।

मोकोकचुंग
नागालैंड का यह शहर विकसित होने के साथ-साथ सामाजिक ओर राजनैतिक तौर पर काफी विकसित है। यह एओ जनजातियों का गढ़ भी है। यहां स्थित म्यूजियम में एओ जनजाति की अनूठी कलाओं ओर परंपराओं को करीब से देखने का मौका पर सकते हैं। इसका एक अन्य खास आकर्षण यहां के सदियों पुराने युद्ध उपकरण ओर पोशाक हैं। यहां के लोग बहुत मिलनसार स्वभाव के होते हैं। अगली बार जब भी नागालैंड आएं, तो घूमने की लिस्ट में इस जगह को जरूर शामिल रखें।

खोनामा ग्रीन विलेज
khonoma-village-gate
अगर आप नागालैंड जाने की योजना बना रहे हैं, तो इस गांव में जाना न भूलें। यह कोहिमा से महज एक घंटे की दुरी पर है। घुमक्क़ड़ लोगों के लिए तो यह गांव स्वर्ग जैसा है। चारों तरफ लहलहाते खेत और लोक गीत-संगीत से पूरा माहौल बड़ा सुकून भरा होता है। यहां पर्यटकों के लिए होम स्टे की अच्छी व्यवस्था है। अंग्रेजों के दौर का एक पुराना किला भी है। लोक संस्कृति को समझने में रूचि लेने वाले और एडवेंचर पसंद लोगों के लिए यह बेहतरीन गांव है।

जाप्फु चोटी
japfu peak nagaland
109 फ़ीट उंची यह नागालैंड की दूसरी बड़ी चोटी है, जहां से जुकोऊ घाटी का पूरा नजारा दिखता है। हिमालय की भी झलक यहां से दिखती है। इसकी एक दूसरी खासियत यह है कि यहां से आसपास के शहरों और गावों को निहारना बड़ा आनंददायक लगता है। तमाम तरह के दुर्लभ पक्षी भी यहां आपको दिख जाएंगें, जो शायद ही कहीं और देखने को मिलें। ट्रैकिंग के लिए भी यह लोकप्रिय डेस्टिनेशन है। यहां जुकोऊ घाटी भी ट्रैकर्स के बीच काफी लोकप्रिय है। यहां पर कई बड़े मजेदार ट्रैकिंग सर्किट हैं। ऐसे सर्किट देश के कुछेक इलाकों में ही हैं। फ़्लोरा और जुकोऊ लिली सरीखी कई विचित्र प्रजातियां भी आपको देखने को मिल जाएंगी, जो सिर्फ यहां पर हैं।

घोसू पक्षी अभ्यारण
जून के महीने में घोसू पक्षी अभ्यारण पक्षी प्रेमियों के लिए स्वर्ग जैसा होता हैं, क्योंकिं इस दौरान बड़ी संख्या में प्रवासी पक्षी यहां आते हैं। यहां 20 से अधिक प्रजाति के पक्षियों का वास है।
Share:

0 comments:

Post a Comment